Breaking

रविवार, 18 अक्तूबर 2020

ZOMATO ( जोमैटो ) SUCCESS STORY | PANKAJ CHADDAH & DEEPINDER GOYEL | ORDER FOOD ONLINE | INDIAN STARTUP

 ZOMATO ( जोमैटो ) SUCCESS STORY | PANKAJ CHADDAH & DEEPINDER GOYEL | ORDER FOOD ONLINE | INDIAN STARTUP

दोस्तों भारत का नाम अब उन देशो में सुमार किया जाता है जहा पर टेक्नोलोजी का उपयोग हर दिन के साथ बहुत तेजी से किया जाता है और लोग छोटे से छोटे काम को पूर्ण करने के लिए इंटरनेट का उपयोग करता है। पिछले कुछ सालो में इंटरनेट यूजर की संख्या में बहुत ज्यादा बढ़त देखते हुए कंपनी भी अब ऐसी ही प्रोडक्ट लॉन्च कर रही है जो पूरी तरह से टेक्नोलॉजी पर निर्भर हो और इसी की वजह से हमें पिछले कुछ सालो में फ्लिपकार्ट,अमेज़ॉन,ओयो रूम्स और ओला कैब  जैसे कही सफल स्टार्टअप देखने को मिले है। दोस्तों इसी तरह टेक्नोलॉजी पर आधारित एक स्टार्टअप ZOMATO की शुरुआत हुई थी।

Zomato ऑनलाइन फ़ूड डिलेवरी के लिए जनि जाती है। इसी विचार को आगे लेके कही सारी कम्पनिआ मार्किट में आयी थी , लेकिन उस कम्पनीओ को पीछे छोड़ कर यह कंपनी ने अपना स्थान आगे बनाए रखा है। आज पुरे भारत में Zomato और Swiggy के अलावा सायद ही ऐसी कोई कंपनी होगी जो सबसे अच्छी फ़ूड डिलेवरी देती होगी। Zomato की इस सफलता का अंदाज भी आप इसी Success Story से जान पायेंगे , जिस कंपनी की शुरुआत 2008 में दो लोगो द्वारा सुरु की गई थी और आज ये कंपनी 24 देशो में ये अपनी सर्विस पूरी करती है। 

ZOMETO की शुरुआत कैसे हुई ?

दोस्तों इस कंपनी को बनाने का पूरा श्रेय जाता है IIT DELHI के दो दोस्त Pankaj Chaddah और Deepinder Goyel को , जो एक साथ कॉलेज से पासआउट होने के बाद एक मैनेजमेंट कंसल्टिंग कंपनी BAIN & COMPANY में जॉब करते थे , तब उन्होंने वहा जॉब करते हुए देखा की कही सारे लोग रेस्टोरेंट में जाके मेनू कार्ड देखने में ही अपना समय बर्बाद कर रहे थे। इसी परेशानी को सुलझाने के लिए इन दो दोस्तों के दिमाग में एक विचार आया और इसी से FOODIEBAY की शुरुआत हुई। FOODIEBAY एक ऐसी वेबसाइट थी जहा पर कही सारे रेस्टोरेंट के मेनू कार्ड मिल जाते थे। इस वेबसाइट पर रेटिंग की सुविधा भी उपलब्ध थी जिशके चलते लोगो को अच्छे रेस्टोरेंट के बारे में जानकारी मिल जाती थी। शुरुआत के कुछ दिनों में इस कंपनी को पसंद नहीं किया गया , बाद में इस वेबसाइट को बहुत ही प्रसंसा मिली। शुरुआत में ये वेबसाइट अपनी सर्विस दिल्ली में ही देती थी , बाद में मुंबई और कोलकाता में भी अपनी सर्विस देना सुरु किया। 

कंपनी की सफलता को देखते उशका नाम FOODIEBAY से ZOMATO रखा गया , इस नाम को बदल ने का कारण यही था की इश्का नाम EBAY से मिलता था। 2011 में नाम बदल ने के बाद दिल्ली,मुंबई,बेंगलोर,पुणे और कोलकाता जैसे अलग अलग शहरो में भी फैला दिया गया। 

Zomato की सफलता को देखते NAUKARI.COM के फाउंडर Sanjay Bikhchandani ने Zomato में $1M का निवेश किया और INFO EDGE (INDIA) से भी $3M का फंडिंग मिला। इसी तरह अलग अलग जगहों से फंडिंग मिलने के बाद से Zomato तेज़ी से आगे बढ़ता चला गया और समय के ढलते Zomato ने अपनी मोबाइल एप्लीकेशन भी लॉन्च की। 2014 तक ये कंपनी LOSS में चल रही थी , लेकिन इंटरनेट की किंमत सस्ती और स्पीड अच्छी मिलने की वजह से Zometo फायदे में आ गया। कंपनी अब केवल रेस्टोरेंट की जानकारी ही नहीं उपलब्ध करती लेकिन उसके साथ साथ ऑनलाइन फ़ूड डिलेवरी भी करती है। फ़ूड डिलेवरी सर्विस के बाद से Zomato ने कभी पीछे मुड़कर देखा ही नही। आज देखा जाये तो Zomato के 24 अलग अलग देशो में 8 करोड़ से भी ज्यादा लोग इसे पसंद करते है। 

Zomato का टोटल रेवेन्यु $210M से भी ज्यादा है और इस कंपनी में आज 5,000 से भी ज्यादा लोग काम करते है। Zomato का Alexa Rank आज 963 है।

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Adbox