Breaking

बुधवार, 7 अक्तूबर 2020

ZILINGO कैसे बनी नंबर 1 E-Commerce Company ( ZILINGO SUCCESS STORY | MADE 6900+ CRORE IN 3 YEARS )(Ankiti Bose-Founder Of Zilingo )( ZILINGO BUSINESS MODEL )

ZILINGO कैसे बनी नंबर 1  E-Commerce Company ( ZILINGO SUCCESS STORY | MADE 6900+ CRORE  IN 3 YEARS)(Ankiti Bose-Founder Of Zilingo )

 

 ये कहानी एक ऐसी लड़की की है जिन्होंने अपने दम पर एक इंटरनेशनल बाजार में अपनी कंपनी खड़ी की और उससे लाखो लोगो को रोजगारी भी दी। इस  लड़की ने पुरे भारत का नाम विश्व में सबसे ऊंचा किया है। ऐसे तो कई सरे लोग है जिन्होंने भारत का नाम प्रसिद्ध किया है , लेकिन हम आज जिसके बारे में बताना चाहते है वो एक लड़की है और उशकी उम्र सिर्फ 23 साल की थी जब उन्होंने िश कंपनी की शुरुआत की थी। हम बात कर रहे है अंकिती बोझ की।आज हम इन्ही के बारे में कुछ ऐसी बात जानेंगे जो अपने कभी सुनी नहीं होगी। 

ANKITI BOSE CAREER DETAIL :

Ankiti Bose ने मुंबई के St. Xavier's College से अपनी पढाई पूरी की।पढाई करने के बाद इन्होने Sequoia Capital में अपना जॉब किया और जॉब करते करते एक दिन इन्होने निर्णय लिया की एक दिन में खुद की कंपनी बनाउंगी। उस दौरान उसकी मुलाकात हुई गुवाहाटी IIT के Dhruv Kapur से,जिनके साथ मिलकर Ankiti ने अपनी कंपनी लगाई,में बात कर रहा हु ZILINGO की।अब आप ये कहेंगे की अपने इस कंपनी का नाम नहीं सुना क्योकि ये कंपनी भारत में उपलब्ध नहीं है। इनकी मैंन ब्रांच सिंगापुर में है,इसका टेक्निकल सपोर्ट भारत से है और इस कंपनी का बाजार South East Asia में है। 

ZILINGO SUCCESS STORY :

 भारत में जैसे Amazon और Flipcart जैसे बड़े प्लेयर्स है South East Asia में उस समय ऐसी कोई कंपनिया नहीं थी। Ankiti जब थाईलैंड गई,तब वहा चतुचक मार्केट में गई,वहा उन्होंने देखा की कही सारे लोग छोटे छोटे गांव से आते थे और अपना सामान बेच रहे थे। उसी समय Ankiti ने सोचा की वो पुरे साउथ ईस्ट एशिया के जितने भी ऐसे लोग है,जो अपना सामान बेचते है उनके लिए वो ONINE PLATEFORM शुरू करेगी।उन सभी लोगो के लिए उन्होंने अपने वेबसाइट पर Free Listing की सुविधा उपलब्ध करवाई। Ankiti अपने वेबसाइट पर प्रोडक्ट बेचने के लिए कोई Fees नहीं लेती थी,लेकिन उशके बदले में वो 10-20 % COMMISION लेती थी। 

Zilingo को शुरू करने के लिये इस कंपनी के फाउंडर ने मिलकर $30,000 इक्क्ठे किये और इस समय पर इन लोगो के पास कोई इनवेस्टर नहीं थे जो कंपनी को फंड दे सके। कुछ ही सालो में इस Zilingo का बिज़नेस बहुत ही आगे बढ़ा और आज इस कंपनी के पास कही सरे बड़े बड़े इनवेस्टर है। Zilingo शुरू करने के लिए Ankiti ने South East Asia को चुना,क्योकि भारत में उस समय Amazon और Flipcart जैसी कई सारी बड़ी कम्पनिआ थी और South East Asia में ऐसी कोई सर्विस उपलब्ध नहीं थी। हम आपको बता देते है की 2018 तक Zilingo की आमदनी लगभग 20 गुना बढ़ गई थी।

ZILINGO  का मतलब है "THE GIFT OF GOD"। Ankiti आज कहती है की महिला होना कोई दिक्कत की बात नहीं है। हर और महिलाओ कोई सपोर्ट मिलता है।वो कहती है की जब वो सिकोया कैपिटल में थी तब उन्हें कही सरे स्टार्टअप को Judge करने का मौका मीला। उसी  दिन उन्होंने तय कर लिया की एक दिन में भी बहुत कंपनी शुरू करुँगी,और वो सपना पूरा हो गया। इसीलिए आज भी हम कहते है की कोई भी बहाना हो छोड़ दीजिए की में एक महिला हु , मेरी उम्र कम है , मेरे पास कोई विदेशी COLLEGE की डिग्री नहीं है और मेरे पास पूंजी नहीं है। 

 ZILINGO RECTANGLE : 

RECTANGLE के चार कोने में से पहला है Technology। कोई भी बिज़नेस बिना Technology के नहीं होता , जब Ankiti थाईलैंड गई थी तब उसने देखा की उनके पास सबसे ज्यादा कमी टेक्नोलॉजी की है। इशके लिए उशने TECHNOLOGY TOOLS का निर्माण किया। 

  TECHNOLOGY TOOLS:

  • Platform where People from Different Countries can Meet together
  • Buyer can see the products in Factories
  • Inventory Management
  •  Cross Border Shipping

ZILINGO का दूसरा कोना है FINTECH। FINTECH का मतलब है फाइनैंशल टेक्नोलॉजी पार्टनरशिप। उशने देखा की लोगो के पास सामान बनाने के लिए पैसे नहीं थे , इशके लिए उन्होंने फिनानइर कंपनी से पार्टनरशिप करके इन लोगो को पैसो के मामले में सपोर्ट किया। ये पैसा उन्होंने काम व्याज पर देना सुरु किया , इस  पैसे वजह से लोगो को Advance Payment मिलना सुरु हो गया और जब आप किसी को Financial Support देते हो उस क्षण आप उसके Business Partner बन जाते हो और फिर वह आपको कभी भी छोड़ने का नहीं सोचते और यह ZILINGO के साथ भी हुआ। 

ZILINGO का तीशरा कोना है ZILINGO NETWORK। इस  नेटवर्क में Manufacturer काम लागत में अपना सामान खरीद सकता है , फिर चाहे वो दुषरे देस ही क्यों ना हो। ZILINGO उश्के लिए भी प्लेटफार्म देता है। 

अंत में आता है ZILINGO Local Support। वो लोगो को पूरा सपोर्ट करती है , लोगो को सामान खरीदने से लेकर बेचने तक सारी जानकारी एक ही प्लेटफार्म पर देती है।

ZOLINGO LOCAL SUPPORT : 

  • Future Requirements
  • Running Fabrics
  • Training
  • Help In Documentation
  • Shares all Expertise
ZILINGO ऐसे तो कई सरे प्रोडक्ट कोई अपनी वेबसाइट पर बेचता है लेकिन ZILINGO सबसे जयादा आमदनी और मुनाफा कपडे के बिज़नेस से कमाता है। इसी लिए आज ZILINGO में कई सरे ऐसे मैनुफेक्चर है जो अपना सामान ZILINGO के माध्यम से बेचते है और रोजाना लाखो रुपये के व्यापर करते है। जब किसी मैनुफ़ैक्चर के पास सामान को उत्पादित करने के लिए पैसा नहीं है तो अब ZILINGO ऐसे कई सरे लोगो को फाइनेंसियल सपोर्ट भी करती है , इन सब की वजह से ZILINGO इतने काम समय में बहुत ही आगे निकल चुकी है और आज िश कंपनी के पास कई सरे बड़े इन्वेस्टर है,जो इस कंपनी को कई सारा फंड देते है।
 
इसीलिए हम कहते है की Ankiti से पूरा भारत गर्व मेहसूस करता है।अंत उनके आमदनी की बात करते है। ZILINGO पिछले तीन साल में 6900+ का Revenue हासिल किया है।
 
अगर आप भी ZILINGO  तरह अपनी कोई खुद कंपनी सुरु करना चाहते हो तो हमारे इस वेबसाइट को FOLLOW कर दीजिये ताकी आपको ऐसी कही सारी मोटिवेशनल स्टोरी के बारे में पता चल सके और भविष्य में आप भी कुछ अच्छा कर सके अपने जीवन में।  

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Adbox